Mobile Number Port Kaise Kare [किसी भी सिम कंपनी में]

Mobile Number Port Kaise Kare: आजकल इस इन्टरनेट के दौर में लगभग सभी टेलिकॉम सिम कंपनी अलग-अलग सुविधा दे रही है और ये टेलिकॉम कंपनी अपने ग्राहकों को कुछ लुभावाने ऑफर देती रहती है । इसके अलावा कई बार किसी टेलिकॉम कंपनी का नेटवर्क आपके इलाके में अच्छा नहीं होता और जिसके कारण हमे काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है । ऐसे में अगर हम एक मोबाइल सिम कंपनी से दुसरे मोबाइल सिम कम्पनी में जाना चाहते है तो हमे मोबाइल नंबर पोर्ट की जरुरत पड़ती है । इसलिए हम आपको बताएगे कि मोबाइल नंबर पोर्ट कैसे करते है मतलब सिम पोर्ट कैसे होता है ।

mobile number port kaise kare

दोस्तों चाहे आप के पास किसी भी कम्पनी कि sim हो जैसे airtel, vodafone-idea, jio, bsnl आप सभी sim को आसानी पोर्ट करा सकते है । हम आपको पहले ही बता चुके है कि अधिकतर नंबर हम पोर्ट बेहतर सुविधा और ऑफर के लिए करते है । इसलिए भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) ने दूसरी टेलिकॉम कंपनी में जाने की ये पोर्ट सुविधा चालू की है । जिससे कि हम लोगो को काफी फायदा भी हुआ है, अगर आप भी अपना मोबाइल नंबर पोर्ट करना चाहते है तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़े । क्यूंकि आज के इस आर्टिकल हम जानगे कि मोबाइल नंबर पोर्ट क्या है, इसकी क्या शर्ते है और मोबाइल नंबर कैसे करे इन सब सवालो के जवाब आपको देगे ।

Mobile Number Port या MNP क्या होता है ?

अब भी हम में से कुछ लोग सिम पोर्ट (Sim Port) के बारे में अच्छे से नहीं जानते इसलिए हम बताते है कि Sim Port एक ऐसी सुविधा है, जिसमे हम अपना मोबाइल नंबर बदले बिना एक टेलिकॉम कंपनी से किसी दूसरी टेलिकॉम कम्पनी में आसानी से जा सकते है और उसकी सेवा का लाभ ले सकते है । इस एक सिम कंपनी से दूसरी सिम कंपनी में जाने की प्रकिया को ही Mobile Number Porting या Sim Port या MNP  (Mobile Number Portability) कहते है ।

इस सेवा को TRAI (Telecom Regulatory Authority of India) ने मोबाइल सिम कंपनियों की मनमानी को कम करने और हम लोगो के लिए एक टेलिकॉम कंपनी से दूसरे कंपनी में बिना नंबर बदले जाने के लिए बनाया है । ये सुविधा फ़िलहाल राज्य के अंतर्गत संभव है और आने वाले कुछ समय में porting सुविधा अंतराज्यीय में भी संभव होने वाली है ।

मोबाइल नंबर पोर्ट के कारण क्या है ?

मोबाइल नंबर पोर्ट (Mobile Number Port) करने का हमारा कोई भी कारण हो सकता है । जिनमे से दो मुख्य कारण इस इस प्रकार है, सबसे पहला कारण है कि हम जिस कंपनी की सिम का उपयोग करते है । अगर उसका नेटवर्क खराब हो मतलब आपके इलाके में उस sim के साथ आपको कॉल करने या इन्टरनेट उपयोग करने पर सही नेटवर्क न मिलाता हो । जिसके कारण आपको परेशानी का सामना करना पड़े । दूसरा मुख्य कारण है कि कुछ टेलिकॉम या सिम कंपनी आपको अच्छे ऑफर करे जिससे कि आप उस कंपनी में जाने को आकर्षित हो ।

Sim Number Port या Mobile Number Port के लिए आवश्यक शर्ते क्या है ?

मोबाइल नंबर पोर्ट या सिम पोर्ट करने के लिए कुछ शर्ते (Condition) है जो कि नीचे दी गयी है । जिनको आपको ध्यान से देख लेना है और आप इन मापदंडो पर खरे उतरने चाहिए जब ही आप अपने नंबर को पोर्ट करा पायेगे ।

1. सबसे पहले अगर आप प्रीपेड यूजर है तो आपके मोबाइल में मैसेज भेजने का रिचार्ज मतलब बैलेंस जरुर होना चाहिए और यदि पोस्टपेड यूजर है तो आपका कोई भी बिल बचा नहीं होना चाहिए ।

2. मोबाइल नंबर port करने के लिए आपका सिम उस टेलिकॉम कंपनी में कम से कम 90 दिन पुराना जरुर होना चाहिए। तभी आप पोर्ट request कर सकते है ।`

3. Mobile number port सिर्फ आप अपने राज्य के अन्दर ही करा सकते है मलतब आपका मोबाइल नंबर जिस राज्य का उसी में sim port करा सकते है ।

4. इसके अलावा सबसे मुख्य बात आपके पास उचित आईडी प्रूफ मतलब आधार कार्ड जरुर होना चाहिए।

5. अगर आप इन मापदंडो को पूरा करते है तो ही अपने मोबाइल नंबर को पोर्ट करा सकते है और पोर्ट करने की प्रक्रिया हमने नीचे बताई है जो कि आप वह पढ़ सकते है ।

Mobile Number Port या MNP कैसे करते है।

1. सबसे पहले एक मैसेज क्रिएट करना है । इसके लिए अपने फ़ोन के मैसेज बॉक्स में जाये और वह create new message के आप्शन पर क्लिक कर दे ।

2. इस क्रिएट मैसेज में आपको बड़े शब्दों (capital Latter) में PORT <space> mobile number लिखकर इस मैसेज को 1900 नंबर पर send कर देना है जैसे कि PORT 9876543210 और 1900 पर इस मैसेज को send  कर दे ।

sim port kaise kare

3. message भेजने के तुरंत बाद आपके मोबाइल नंबर आपकी सिम कंपनी की तरफ से मैसेज आयेगा । इस मैसेज में आपको एक UPC code मिलेगा इसके द्वारा ही आप अपने मोबाइल नंबर को पोर्ट करा सकते है । इस upc code की validity भी साथ में लिखी होगी जो 4-5 दिन अधिकतर होती है इसके अलावा कुछ राज्यों में validity 15 और 30 दिन भी देखने को मिलती है । आप इस validity के ख़तम होने से पहले ही अपने मोबाइल नंबर पोर्ट करा सकते है ।

4. अब आप जिस भी company का नंबर लेना या पोर्ट करना चाहते है आपको उस कंपनी के कोई भी नजदीकी Store जैसे airtel, jio, vodafone-idea, bsnl पर जाना होगा या फिर आप किसी मोबाइल Shop  में भी जा सकते हो जो ये सुविधा देती हो ।

5.  अब आपको मोबाइल Store या Shop के दुकानदार को वो upc code मैसेज दिखाना होगा जो आपके नंबर पर आया था । जिसके द्वारा वो दुकानदार आपका मोबाइल नंबर पोर्ट करेगा और इसके अलावा दुकानदार के पास आपको अपना आईडी प्रूफ भी ले जाना होगा ।

6. अब दुकानदार आपको एक नया sim card देगा और इस नए sim कार्ड पर ही आपका वो नंबर चालू होगा जिस मोबाइल नंबर से आपने वो मैसेज भेजा था ।

7. कुछ दिनों में आपकी पुरानी sim से नेटवर्क चला जायेगा और उस समय आपको फ़ोन में नयी sim डाल लेनी है उस नयी सिम में नेटवर्क आ जायेगा । इस port होने की प्रक्रिया में लगभग 6-7 दिन का समय लगता है और उसके बाद आपका mobile number port या sim port हो जाता है ।

इस तरह से आप अपना मोबाइल नंबर  आसानी से पोर्ट कर सकते है और इस प्रक्रिया के द्वारा आप किसी भी कंपनी के number को port करा सकते है जैसे Mobile number port jio to airtel, Mobile number port airtel  to jio, Mobile number port vodafone-idea to jio, Mobile number port jio to jio to vodafone-idea, Mobile number port vodafone idea to airtel, Mobile number port airtel to bsnl आदि । और आप एक कंपनी से दूसरी कंपनी में बिना नंबर बदले जाकर उस कंपनी की सेवा का लाभ उठा सकते है ।

निष्कर्ष:

मुझे उम्मीद है अब आप इस आर्टिकल Mobile Number Port Kaise Kare को पढ़कर जान गए होगे कि आप अपने नंबर को एक कंपनी से दुसरे कंपनी में पोर्ट कैसे करते है । अगर आपके मन में इस आर्टिकल से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप हमे कमेन्ट के माध्यम से पूछ सकते है, अगर आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आई तो इस आर्टिकल को शेयर जरुर करे ।.

Leave a Comment